युवा सनसनी माधव महाजन का ‘चन्न वी गवाह’ बना रहा रिकॉर्ड – Interesting Facts, Information in Hindi

डॉक्टर – गायक माधव महाजन ने पंजाबी उद्योग में अपने चार्टबस्टर गीत “मन बावरिया” और “चन वी गवाह” के साथ मनोरंजन की एक नई लहर पैदा की है। युवा प्रतिभाशाली गायक ने पूरे भारत में प्रशंसकों को आकर्षित किया है।

YouTube पर 4 करोड़ 20 लाख से अधिक बार देखे जाने के साथ, गीत ‘चन्न वी गवाह’ अब युवा पीढ़ी के बीच लोकप्रिय सोशल मीडिया ऐप टिकटॉक पर ट्रेंड पर है।

माधव महाजन – विधिवत प्रशिक्षण नहीं

माधव महाजन, जिन्होंने संगीत में कभी किसी प्रकार से प्रशिक्षण नही लिया, उन्होंने खुद गिटार, हारमोनियम और अन्य वाद्य यंत्र बजाना सीखा है।

अपना तीसरा गीत, मन बावरिया’ बनाते समय, उन्होंने अपने लिए म्युजिक प्रोड्युस के बारे में जानकारी प्राप्त की। अपने म्युजिक के व्यक्त होते हुए कहा, “मैं अपने जीवन घटीत प्रसंगो पर गीत बनाता हूं। इसी तरह मेरा म्युजीक तैयार होता है।”

माधव महाजन

मुख्य धारा से अलग उनकी रचना शैली को महसूस करते हुए, माधव ने खुद का संगीत मधुरऔर मनभावन बनाने के इरादे से संगीत उत्पादन के क्षेत्र में प्रवेश किया। प्रतिभाशाली गायक-संगीतकार कहते हैं, मेरे गाने पारंपरिक और शहरी संगीत का मिश्रण हैं और दर्शकों के साथ सीधे संवाद कर सकते हैं।

मुझे अपने आप से सवाल था कि ऐसे गाने दर्शकों को पसंद आएंगे या नही पर “चन्न वी गवाह’ के शानदार प्रतिक्रियाओं ने सब पर संपुष्टि लगा दी ।

माधव महाजन का ‘चन्न वी गवाह’ यह गाना इंस्टैंट हिट था। यह गाना  वायरल हो गया और लाखों  लोगों ने ऑनलाइन देखा। इस प्रकार माधव महाजन का गाना ऑनलाइन ट्रेंड के साथ इस एक गाने पर 50 से अधिक वीडियो का कोलाज वीडियो अपलोड था।

माधव महाजन का “मौन व्रत”

माधव महाजन अपने एक मुश्किल समय को याद किया जब वह मुंह के उपचार से गुजर रहे थे और वे सर्जरी का जोखिम नहीं उठाना चाहते थे। उन्होंने कहा, मैं एक ‘मौन व्रत’ पर था और एक साल तक ध्यान लगाया मेडिटेशन किया, जिसके बाद चीजें बेहतर होने लगीं।”

निस्संदेह, माधव महाजन एक युवा सनसनी हैं, जो पंजाबी संगीत उद्योग पर शासन करते हैं और बॉलीवुड उद्योग में पैर जमाने के लिए तैयार हैं।

छन्न वी गवाह  गाना देखने के लिए  क्लिक कीजिये

https://www।youtube।com/watch?v=QmQjSQ9DGw4

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *